25.4 C
Dehradun
Wednesday, June 29, 2022
HomeNewsUttarakhand Politics: उत्तराखंड के सबसे कम उम्र के CM बने पुष्कर धामी,...

Uttarakhand Politics: उत्तराखंड के सबसे कम उम्र के CM बने पुष्कर धामी, मंत्रिमंडल समेत ली शपथ

45 साल के पुष्‍कर सिंह धामी उत्‍तराखंड के 11वें मुख्‍यमंत्री बन गए हैं। रविवार शाम राजभवन में आयोजित समारोह में उन्‍होंने सीएम पद की शपथ ली। राज्‍यपाल बेबी रानी मौर्य ने उन्‍हें शपथ ग्रहण कराया। पिछले साढ़े चार सालों में उत्‍तराखंड को तीसरा सीएम मिला है। इससे पहले त्रिवेंद्र सिंह रावत और तीरथ सिंह रावत सीएम रह चुके हैं ।

पुष्कर सिंह धामी के बारे में।

पुष्कर सिंह धामी का जन्म 16 सितंबर 1975 में पिथौरागढ की ग्राम सभा टुण्डी के तहसील डीडी हाट में जन्म हुआ । पुष्कर धामी ने स्नातकोत्तर तक पढ़ाई की है।
पुष्कर सिंह धामी उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जिले के खटीमा विधान सभा क्षेत्र से विधायक हैं. वह इस सीट से दूसरी बार विधायक चुने गए थे । 2012 और 2017 का चुनाव उन्होंने जीता है।

धामी के साथ मंत्रियों ने भी ली शपथ।

धामी के साथ 11 मंत्रियों ने भी शपथ ग्रहण किया। इनमें सतपाल महाराज, डॉ हरक सिंह रावत, यशपाल आर्य, डॉ धन सिंह रावत, बिशन सिंह चुफल, गणेश जोशी, अरविंद पांडे, सुबोध उनियाल, रेखा आर्या, यतेश्‍वरानंद और बंशीधर भगत का नाम शामिल है। ये सारे मंत्री तीरथ सिंह रावत सरकार में भी शामिल थे। खास बात यह रही कि इस बार कोई राज्‍य मंत्री नहीं बना। सभी को कैबिनेट मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है।

धामी युवाओं में काफी लोकप्रिय।

पुष्कर सिंह धामी का नाम सीएम पद की दौड़ में था, जिसमें उन्हें जीत हासिल हुई है। ऊधमसिंह नगर जिले की खटीमा सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे पुष्कर सिंह धामी लगातार दूसरी बार से विधायक हैं ।पूर्व मुख्यमंत्री एवं वर्तमान में महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के करीबी माने जाने वाले धामी भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष समेत पार्टी में अन्य पदों पर कार्य कर चुके हैं और युवाओं में उनकी पकड़ को बेहतर माना जाता है। वह युवाओं में काफी लोकप्रिय है।

उत्तराखंड के सबसे युवा मुख्यमंत्री बने धामी।

राज्य में अभी तक जितने भी मुख्यमंत्री रहे हैं, उनकी उम्र पुष्कर सिंह धामी से अधिक ही रही है। के लिहाज से देखा जाए तो पुष्कर सिंह धामी ही उत्तराखंड के सबसे कम उम्र के सीएम बने हैं, जिन्हें उत्तराखंड की कमान सौंपी गई है। पिछले कुछ मुख्यमंत्री के उम्र को देखा जाए तो साल 2014 में मुख्यमंत्री बने हरीश रावत की उम्र 66 साल थी ।इसके बाद साल 2017 में हुए विधानसभा चुनाव के बाद मुख्यमंत्री बने त्रिवेंद्र सिंह रावत की उम्र 57 साल थी तो वहीं साल 2021 में मुख्यमंत्री बने तीरथ सिंह रावत की उम्र भी 57 साल थी। इससे पहले भी कोई ऐसे मुख्यमंत्री नही हुए जो पुष्कर सिंह धामी से अधिक उम्र के रहे हो। अब देखने वाली बात यह होगी कि इनके कार्यकाल में उत्तराखंड के लोग कितना संतुष्ट हो पाते है।

Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments