25.4 C
Dehradun
Wednesday, June 29, 2022
HomeHealthKidney की समस्या से जूझ रहे लोग कोरोना संक्रमण से बचाव के...

Kidney की समस्या से जूझ रहे लोग कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बरतें ये जरूरी सावधानियां

भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर काफी खतरनाक साबित हो रही है । कोरोना की यह दूसरी लहर सबसे ज्यादा युवा और बच्चों को अपनी चपेट में ले रही है । कोरोना के ज्यादातर मरीजों में इस बीमारी के बहुत ही हल्के लक्षण होते हैं। हालांकि बुजुर्गों में मधुमेह, कैंसर और किडनी की बीमारी वाले लोगों में कोरोना के गंभीर लक्षण देखे जा सकते हैं। अनुमान है कि कोविड-19 से होने वाली 80 फीसदी मौतों की उम्र 65 साल से अधिक है। आइये जानते है कि किडनी से जुड़ी बीमारियों से ग्रसित लोगों को क्या सावधानियां रखने की जरूरत है।

कोरोना वायरस फेफड़ों पर हमला करता है ।

कोरोना वायरस इंसान के फेफड़ों पर हमला करता है। इससे उनके सीने में दर्द और सूजन हो जाती है। यह लगातार सीने में दर्द और दबाव का कारण बनता है। ऐसे मामलों में, रोगी को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता होती है। डॉक्टरों का कहना है कि सीने में दर्द या सूजन कोविड-19 संक्रमण का संकेत हो सकता है। अगर किसी को सीने में जलन के साथ सांस लेने में तकलीफ हो रही है तो यह कोरोना के कारण हो सकता है।

किडनी की कोशिकाओं को नुकसान ।

किडनी की कोशिकाओं को सबसे ज्यादा संक्रमित वायरस करता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक कोरोना वायरस से ग्रसित होने के बाद किडनी से जुड़ी बीमारियों से ग्रसित लोगों में यह प्रक्रिया तेज हो सकती है। कोरोना वायरस की वजह से किडनी की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचता है जिसकी वजह से कोरोना का असर ख़त्म होने के बाद भी लोगों को गंभीर समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। फेफड़ों और हार्ट की कोशिकाओं पर भी इस वायरस का गहरा असर देखा गया है।

नियमित रूप से डॉक्टर द्वारा दी गयी दवाओं का सेवन करें।

जरूरी है इससे ग्रसित लोगों को नियमित रूप से दवाइयों का सेवन करना चाहिए। चिकित्सक के परामर्श वाले ही दवाई खरीदे । नियमित दवाई के सेवन से इसपे आप काबू पा सकते है।

सार्वजानिक स्थान पर जाने से बचें ।

रोगी को सार्वजानिक स्थान पर जाने से बचना चाहिए । ऐसे लोगों से दूरी बनाएं रखें जो कोरोना से पीड़ित हैं। ज्यादा भीड़ वाली जगहों पर जाने से खुद को रोकना होगा।

साफ-सफाई पर विशेष ध्यान।

रोगी को नियमित रूप से हाथ धोना चाहिए या सैनिटाइजर से हाथों को साफ करते रहना चाहिए। मास्क का उपयोग तो नियमित करना चाहिए। बार-बार किसी सतह को छूने से बचना चाहिए। इससे संक्रमण से खुद का बचाव किया जा सकता है।नियमित रूप से डॉक्टर द्वारा दी गयी दवाओं का सेवन करें। डायलिसिस के रोगी कोई दिक्कत होने पर चिकित्सक से जरूर संपर्क करें।

खान पान पर विशेष ध्यान।

इस वायरस से सुरक्षित रहने के लिए इम्यून सिस्टम को मजबूत करना बहुत जरूरी है। इम्यून सिस्टम के मजबूत होने पर कोरोना वायरस से संक्रमण का खतरा बहुत कम हो जाता है। इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए खान-पान का विशेष ध्यान रखना चाहिए। खान-पान का ध्यान रखने से इम्यून सिस्टम को मजबूत किया जा सकता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments