18.3 C
Dehradun
Friday, December 2, 2022
HomeHealthआम से त्वचा और बालों को भी होगा फायदा, इस तरह से...

आम से त्वचा और बालों को भी होगा फायदा, इस तरह से करें इस्तेमाल

आम भारत की राष्ट्रीय फल है। आम को ‘फलों का राजा’ भी कहा जाता है। आम का नाम सुनते ही मुंह में एक अनूठा रस घुल जाता है शायद इसीलिए आम को फलों का राजा भी कहा जाता है। कच्चा आम भी बहुत स्वादिष्ट होता है इसका लोग अचार डालते हैं और पूरे साल में बड़े आनंदपूर्वक इसे खाकर मजा लेते है।

कच्चा आम गर्मियों में बहुत काम आता है क्योंकि जब किसी को अधिक गर्मी के कारण लू लग जाती है तो कच्चे आम का पानी पिलाने से उसे तुरंत आराम मिलता है। यह दुनिया का सबसे शानदार फल है। विज्ञान के आधुनिक तरीको के कारण आज हमें आम हर मौसम मिल रहा है। यह स्वादिष्ट होने के साथ-साथ स्वास्थ्य के लिए लाभकारी भी है।
आज हम आपको आम के एक ऐसे गुण के बारे में आपको अवगत कराएंगे जिसे जानकर आपको बहुत लाभ होगा। आइये जानते आम का यह गुण।

आम के पतों से लाभ।

आम के पत्तों का अर्क इसकी एंटीऑक्सिडेंट सामग्री के कारण त्वचा की उम्र बढ़ने के संकेतों को कम करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा, आम के पत्ते बालों के विकास को बढ़ावा देते हैं और इसका उपयोग कई हेयर उत्पादों में किया जाता है।

त्वचा के लिए लाभकारी।

आम खाने के जितने लाजवाब फायदे हैं, उतने ही त्वचा पर लगाने के भी हैं। इससे त्वचा पर जो निखार आता है, वह खास होता है। आम के पल्प से बना फेस पैक गजब का इफेक्टिव होता है ।

फेस पैक बनाने की विधि।

चमकदार और बेदाग त्वचा के लिए आम का इस्तेमाल करके देखें। इसके लिए फेस मास्क तैयार करें। आम और शहद ले। थोड़ा सा आम का गूदा लें। उसमें एक चम्‍मच शहद और बादाम तेल मिलाकर पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को लगभग 20 मिनट चेहरे पर लगाए रखने के बाद ठंडे पानी से मुंह धो लें। त्वचा की थकान निकल जाएगी। आंखों के नीचे काले घेरों को कम करने के लिए आम के रस में रुई भिगोकर लगाएं। काफी फर्क पड़ेगा। आम के रस में शहद और दूध मिलाकर चेहरे पर आधा घंटा लगाने से चेहरा साफ होता है। आम और दही मिलाकर भी मास्क तैयार किया जा सकता है।

आम का मड मास्क बनाने की विधि।

आम का मड मास्क बनाने के लिए यह प्रक्रिया अपनाना चाहिए। इसके पैक को बनाने के लिए आम के गूदे में एक छोटा चम्‍मच वाइट क्‍ले या ओट्स, शहद और दूध मिला लें। इस पेस्ट को त्वचा पर लगाएं। कुछ दिनों में खुद आपको अपनी त्वचा से प्यार हो जाएगा। पके हुए आम के पल्प में मिल्‍क पाउडर और शहद मिला कर स्क्रब तैयार करें। इस स्क्रब से धीरे-धीरे त्वचा रगड़ें। एकदम साफ-चिकनी हो जाएगी। आम एंटीएजिंग का काम भी करता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट होता है। आम के गूदे को सीधे चेहरे पर लगाकर रखें। कुछ देर बाद चेहरा धो डालें। फर्क खुद देखें।

आम के पत्तों को बालों में लगाने के फायदे ।

अगर आप आम की न्यूट्रिटिव वैल्यू देखेंगी तो पाएंगी कि इसका हर हिस्सा किसी न किसी तरह से हमारे लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। इसका गूदा, गुठली, स्टेम, पत्तियां सभी कुछ किसी न किसी तरह से आयुर्वेदिक औषधि के रूप में इस्तेमाल किए जा सकते हैं। जहां तक आम की पत्तियों का सवाल है तो इसमें विटामिन A, B, C, फ्लेवोनॉइड, नियासिन, बीता कैरोटिन, फाइटोन्यूट्रिएंट्स जैसी कई चीज़ें होती हैं ।

ये ब्लड प्रेशर और एंग्जाइटी को कंट्रोल करने के साथ-साथ ब्लड सर्कुलेशन के लिए भी अच्छी होती हैं और यही कारण है कि इनसे स्कैल्प को फायदा मिलता है। अगर आप किसी एंटी-बैक्टीरियल स्कैल्प ट्रीटमेंट के बारे में सोच रही हैं तो आम के पत्तों का ट्रीटमेंट सही होगा। अगर आपके बाल डल दिखते हैं तो इसमें मौजूद कोलाजेन बालों की शाइन को बढ़ाएगा।

RELATED ARTICLES

5 COMMENTS

  1. Hindoos have to follow the path of Gandoo Madarchod Rama

    Even Lord Rama ate rats and rodents and lizards,and eating rats is prescribed,as per the Hindoo Ramayana,for Brahmins and Kshatriyas !

    Book IV : Kishkindha Kanda – Chapter 17

    पंच पंच नखा भक्ष्या ब्रह्म क्षत्रेण राघव |
    शल्यकः श्वाविधो गोधा शशः कूर्मः च पंचमः || १-१७-३९

    “Raghava, five kinds of five-nailed animals, viz., a kind of wild rodent, a kind of wild-boar, a kind of lizard, a hare and fifthly the turtle are edible for Brahma*ns and Kshatriya-s. [4-17-39]

    The problem is that the Brahmins and Kshatriyas started to eat beet and goats,and so the rats ate the crops !
    That was the genesis of the Food and Economic problem,of India.dindooohindoo

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Antonioneock on What exactly is Boardroom?
Antonioneock on What exactly is Boardroom?
Jeffreyemads on Malware Software Weblog
CurtisWen on Hello world
Jeffreyemads on What exactly is Boardroom?
Jeffreyemads on How Do You Talk to a lady?
Jeffreyemads on Types of Connections
Jeffreyemads on Hello world
CurtisWen on Firmex VDR Update
DavidAloni on Using CBD Efficiently
Jeffreyemads on Hello world
DavidAloni on A Tech Antivirus Review
DavidAloni on VDR Information Security
Jeffreyemads on Promoting Insights
DavidAloni on Promoting Insights
Jeffreyemads on Malware Software Weblog
Jeffreyemads on What exactly is Boardroom?
Jeffreyemads on How Do Hookup Sites Work?
DavidAloni on Hello world
Jeffreyemads on Hookup Now Get Hooked Up
DavidAloni on Types of Connections
Jeffreyemads on Using CBD Efficiently
Jeffreyemads on A Tech Antivirus Review
Jeffreyemads on VDR Information Security
JoshuaAgige on How Do Hookup Sites Work?
JoshuaAgige on Using CBD Efficiently
JoshuaAgige on Hookup Now Get Hooked Up
JoshuaAgige on Malware Software Weblog
JoshuaAgige on Hello world
JoshuaAgige on Hello world
JoshuaAgige on VDR Information Security
JoshuaAgige on Types of Connections
JoshuaAgige on A Tech Antivirus Review
JoshuaAgige on Promoting Insights
JoshuaAgige on Firmex VDR Update