25.4 C
Dehradun
Wednesday, June 29, 2022
HomeNewsUttarakhand Weather Update: उत्तराखंड में आफत की बारिश, गदेरे में बहा युवक;...

Uttarakhand Weather Update: उत्तराखंड में आफत की बारिश, गदेरे में बहा युवक; गंगोत्री-यमुनोत्री हाइवे बंद

उत्तराखंड में कई दिनों के बाद एक बार फिर मौसम ने करवट बदला है। राज्य में कई दिनों तक मौसम सामान्य रहने के बाद शनिवार देर रात उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में भारी बारिश हुई। लोगों के लिए यह बारिश आफत बन मार आई है। बारिश के कई हाइवे बंद हो गए है जिससे आवागमन में लोगों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

कैम्पटी में भारी बारिश के कारण पर्यटकों को रोक।

कैम्पटी में मूसलाधार बारिश के कारण झड़ना उफान पर है । प्रशासन द्वारा पर्यटकों को झड़ने में जाने से फिलहाल रोक लगा दिया गया है। रविवार को प्रशासन द्वारा पर्यटकों को कैम्पटी झील में जाने से रोक दिया गया । झड़ने के आसपास काफी मात्रा में मलबा भी जमा हो गया है। यह मलबा प्रशासन के लिए भी एक चुनौती बन कर आया है। पर्यटकों को भी काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

चमोली में बाइक सवार के गदेरे में बहने की खबर।

भारी बारिश के कारण चमोली में एक बाइक सवार के बहने की भी खबर है। बाइक सवार अपने बुलेट गाड़ी से पानी के तेज बहाव में बह गया। लोगों से जानकारी के अनुसार वह पानी के तेज बहाव में अपनी गाड़ी ले जाना चाहता था। तेज बहाव के चपेट में आने से गाड़ी सहित बाइक सवार पानी में बह गया। यह घटना कर्णप्रयाग-अल्मोड़ा राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुई है । थानाध्यक्ष ध्वज वीर सिंह पंवार ने बताया कि स्थानीय नागरिकों ने घटना की सूचना दी, जिसके बाद पुलिस बल मौके पर पहुंचा । प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि उन्होंने उसे 200 मीटर दूर तक बहते देखा। बताया जा रहा है कि गदेरे में घटना स्थल के 100 मीटर की दूरी पर बाइक गदेरे के बीचों-बीच दिखाई दे रही है, लेकिन बाइक सवार का अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है।

भूस्खलन के कारण खतरा बना हुआ।

अधिकांश हाइवे भूस्खलन के कारण बाधित हैं। लोगों को आवागमन में काफी परेशानी हो रही है । रविवार को हुए भारी बारिश के कारण गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग नगुण बैरियर के पास बाधित है। इसके अलावा राजमार्ग पर रतूडी सेरा, डबराणी, सुनगर के पास भी भूस्खलन का खतरा बना हुआ है, जबकि यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग धरासू बैंड के पास बाधित है। लोगों के घरों में बिजली की भी समस्या आ गई है । 20 से अधिक गांवों में बिजली की आपूर्ति ठप है।इस विपदा से इलाके के लोग काफी परेशान हैं।

कही मूसलाधार बारिश तो कही गर्मी से राहत।

उत्तराखंड में कई जगहों पर भारी बारिश से तबाही है तो कही गर्मी से राहत भी मिली है। बात करें
मसूरी की तो मसूरी में मूसलधार बारिश होने से बासागाड़ के पास हाथीपांव तिराहे पर टिन शेड के ऊपर बोल्डर गिर गया। इससे टिन शेड में निवास कर रहे नेपाली दंपती चोटिल हो गए। मसूरी में कई जगह भूस्खलन की आशंका भी बनी हुई है। तो वही देहरादून में झमाझम बारिश से गर्मी से कुछ हद तक राहत मिली है । लेकिन भारी बारिश के बाद मुख्य मार्गों पर दूनवासियों को जलभराव की समस्या का सामना करना पड़ा। पानी के जमाव से अब लोग परेशान है।

बद्रीनाथ हाइवे बंद रहा।

भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन से बदरीनाथ हाईवे चमोली में छह और रुद्रप्रयाग में आठ घंटे बंद रहा। कई गाड़ियों के मलबे में दबने की भी खबर है। भूस्खलन से कई रास्ते बाधित है। लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। तेज बारिश से गोशाला और खेत मलबे में दबने की खबर है। अब देखने वाली बात होगी कि कब तक उत्तराखंड का मौसम सामान्य होता है । मौसम के रौद्र रूप से यहाँ के लोगों का जन-जीवन अस्त-व्यस्त है।

Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments